पुलिस ने शव को कब्जे में ले पंचनामा भर पोस्टमार्टम कराने भेजा मृतक की माता ने दी पुलिस को लिखित तहरीर चार को ठहराया इकलौते बेटे की मौत का जिम्मेदार

औरंगाबाद : बुलंदशहर वाल्मिकी चौक के नजदीक ईदगाह रोड़ पर हरिजन युवक विक्की पुत्र स्वर्गीय राजपाल सिंह उम्र लगभग बाइस तेइस बरस मंगलवार की सुबह अपने घर में मृत पाया गया। उसकी मां सरोज अपना इलाज कराने एक हफ्ते पूर्व दिल्ली गई हुई थी जिसके चलते विक्की अपने घर में अकेला था।मंगलवार सुबह उसका दरवाजा नहीं खुला तो पडौसियों ने 112पर काल करके पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने छत पर लगे जाल से नीचे उतर कर ‌देखा तो चारपाई पर विक्की मृत पाया।विक्की की असामायिक मौत की खबर मिलते ही वाल्मीकि बस्ती और सफाई कर्मियों में हड़कंप मच गया ‌ देखते ही देखते सैकड़ों लोग सफाई कर्मचारी आदि काम छोड़ कर मौके पर आ गये। खबर मिलते ही नगरपंचायत कर्मचारी, सभासद, चेयरमैन सलमा कुरैशी के पिता अब्दुल्ला कुरैशी, पूर्व चेयरमैन राजकुमार लोधी उर्फ राजू लोधी आदि मौके पर आ गये। सफाई कर्मचारियों का कहना था कि मृतक युवक विक्की की मां सरोज नगर पंचायत में संविदा पर सफाई कर्मचारी के रूप में कार्यरत है । उसकी एवजी में सफाई नायक ने उसके पुत्र विक्की को सोमवार को ईद पर कुर्बानी के पश्चात पशुओं के अवशेष उठाने मदरसों में भेजा। वहां काम के दौरान विक्की की तबीयत बिगड़ी और वह वापस घर आ गया था। संभवतः हार्ट अटैक से उसकी मौत सोते समय हुई । मौके पर मौजूद सफाई कर्मचारी नाना प्रकार के आरोप लगाते नजर आए। पुलिस ने मृतक का शव कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम कराने जिला मुख्यालय भेज दिया। पुलिस ने मृतक का चिकित्सीय परीक्षण चिकित्सकों की टीम द्वारा कराए जाने की संस्तुति की है जिससे मृतक की मौत का कारण स्पष्ट रूप से सामने आ सके।दूसरी ओर मृतक की मां सरोज देवी ने पुलिस को लिखित तहरीर देकर अपने इकलौते बेटे की मौत के लिए नगर पंचायत के दो सफाई नायकों, चेयरमैन और उनके पिता को जिम्मेदार ठहराया है और उनपर उसकी अनुपस्थिति में जबरन पशुकटान अवशेष उठाने के काम पर लगाये जाने का आरोप लगाया है।थाना प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि मृतक की मां ने तहरीर दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी।

Loading

Spread the love