ख़ेल

भारत की विश्वकप टीम को लेकर आकाश चोपड़ा ने की भविष्यवाणी, बताया IPL के बाद क्या हो सकते हैं बदलाव

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मशहूर कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने 17 अक्टूबर से यूएई में खेले जाने वाले टी20 विश्वकप को लेकर अपनी भविष्यवाणी की है और बताया है कि इस मल्टी-नेशन टूर्नामेंट के लिये घोषित की गई भारतीय टीम में क्या संभावित बदलाव हो सकते हैं। आकाश चोपड़ा ने इस दौरान विश्वकप के लिये चुने गये सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन और भुवनेश्वर कुमार की मौजूदा फॉर्म का भी जिक्र किया और बताया कि कैसे आईपीएल 2021 की उनकी खराब फॉर्म विश्वकप पर असर डाल सकती है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने 8 सितंबर को भारत की 15 सदस्यीय विश्वकप टीम का ऐलान किया था जिसमें चयनकर्ताओं ने कई हैरान करने वाले फैसले किये। चयनकर्ताओं ने भारत की विश्वकप टीम में शिखर धवन और युजवेंद्र चहल को बाहर रखकर हैरान किया तो वहीं पर 4 साल बाद अश्विन को भी वापसी करने का मौका दिया है।

आईपीएल 2021 के दूसरे लेग के दूसरे हफ्ते में ईशान किशन को मुंबई इंडियंस की टीम से बाहर छोड़ने के फैसले पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा कि विश्वकप को मुहाने पर देखते हुए यह फैसला बिल्कुल अच्छा नजर नहीं आ रहा है। चोपड़ा ने आगे जोड़ते हुए कहा कि सूर्यकुमार भी बल्लेबाजी में दम नहीं दिखा पा रहे थे तो वहीं पर हार्दिक पांड्या से आईपीएल में गेंदबाजी नहीं कराई जा रही है, इसके अलावा चोट के बाद वापसी कर रहे भुवनेश्वर कुमार भी सनराइजर्स हैदराबाद के लिये अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके हैं, जिसके चलते भारतीय टी20 विश्वकप में बदलाव के विकल्प खुल गये हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए चोपड़ा ने कहा,’मैं ईशान किशन की फॉर्म पर नजर रखे हुए हूं। मेरा मतलब है कि यह खिलाड़ी अब मुंबई की टीम में भी नहीं है। जब आप मुंबई की प्लेइंग 11 में नहीं खेल पा रहे हैं तो भारत की 15 में कैसे हो सकते हैं। यह बहुत बड़ा सवाल है। सूर्यकुमार यादव को खेलते हुए देखना मैं जितना पसंद करता हूं उतना ही मुझे यह कहते हुए दुख हो रहा है कि उनकी फॉर्म कहीं खो गई है और पूरी तरह से गायब है। वह अपनी परछाई नजर आ रहे हैं। फिर मैं हार्दिक पांड्या के बारे में सोचता हूं जिन्होंने अभी तक गेंदबाजी नहीं की है। चयनकर्ताओं ने कहा कि उन्होंने 3 तेज गेंदबाज सिर्फ इस वजह से चुने हैं क्योंकि हार्दिक ने गेंदबाजी करने का वादा किया है जिन्होंने अब तक एक गेंद नहीं फेंकी है।’

आकाश चोपड़ा ने इस दौरान भुवनेश्वर कुमार की फॉर्म पर भी बात की और कहा कि आप 2-3 खराब पारियों की वजह से बदलाव नहीं करते हैं लेकिन जब आपकी टीम में इतने सारे खिलाड़ी आउट ऑफ फॉर्म हों तो चयनकर्ताओं को सोचना पड़ेगा।

उन्होंने कहा,’भुवनेश्वर कुमार की फॉर्म भी मुझे चिंतित कर रही है। अगर आपकी टीम के इतने सारे खिलाड़ी फॉर्म में नहीं हैं तो क्या इसका मतलब है कि आपको बदलाव की ओर देखना चाहिये? सही मायनों में आप टीम में इतने सारे बदलाव नहीं कर सकते हैं क्योंकि आपने कुछ सोचकर ही उन्हें टीम में जगह दी है और अब आप 2-4 खराब पारियों के चलते उन्हें बाहर नहीं कर सकते हैं। आपको उन पर भरोसा दिखाना होगा।’

आकाश चोपड़ा का मानना है कि विश्वकप के लिये भारत की टी20 टीम में ज्यादा बदलाव तो नहीं होंगे लेकिन कम से कम 2 बदलाव होने पक्के हैं।

उन्होंने कहा,’मुझे लगता है कि टीम में कम से कम बदलाव होना बिल्कुल पक्का है। मुझे लगता है कि श्रेयस अय्यर की टीम में वापसी होगी और कम से कम एक खिलाड़ी को बाहर जाना पड़ेगा। एक और खिलाड़ी यहां पर दबाव में होगा। क्या आपक संजू सैमसन की तरफ देखेंगे। मैं यह नहीं कह रहा कि आपको देखना चाहिये, मैं बस यह कह रहा हूं कि क्या हो सकता है। मैं श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन, दीपक चाहर और शार्दुल ठाकुर की तरफ देख रहा हूं। वहां पर टीम में 3-4 बदलाव नहीं हो सकते हैं लेकिन मुझे बिल्कुल हैरानी नहीं होगी अगर वहां पर दो बदलाव देखने को मिले।’

गौरतलब है कि ईशान किशन के लिये आईपीएल 2021 काफी बेकार बीता है जिसके 8 मैचों में उन्होंने 13.37 की औसत से सिर्फ 107 रन ही बनाये हैं। ईशान किशन की खराब फॉर्म चयनकर्ताओं को टी20 विश्वकप की टीम में बदलाव करने पर मजबूर कर सकती है। वहीं पर आईपीएल 2021 के पहले लेग में चोट की वजह से मिस करने वाले श्रेयस अय्यर ने दिल्ली कैपिटल्स के लिये जबरदस्त वापसी की है और सिर्फ 3 मैचों में 45 से ज्यादा की औसत से रन बना रहे हैं। सूर्यकुमार यादव भी लगातार खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं जबकि संजू सैमसन ने इस आइपीएल में 45.50 की औसत से अब तक 450 रन बना लिये हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.