कोटद्वार से वृंदावन जा रहे पदयात्री का व्यापारियों ने किया स्वागत सत्कार लगभग तीन सौ किलोमीटर पैदल चलकर वृंदावन पहुंचेगा पदयात्री

औरंगाबाद : बुलंदशहर राजेन्द्र अग्रवाल आस्था जज्बा और हौसले का अनोखा संगम मंगलवार को स्टेट हाइवे पर उस समय दिखाई पड़ा जब एक पैदल पदयात्री हाथ में तिरंगा लिए एक झोला कांधे पर लटकाये औरंगाबाद से देर शाम गुजरा। आश्चर्य से भरे व्यापारियों ने स्याना रोड पर आदर सहित उसे रोक कर गंतव्य पूछा तो उसने बताया कि मुझे वृंदावन जाना है। यहां कहीं कोई मंदिर हो तो वहां का पता बता दीजिए रात्रि विश्राम कर प्रातः वृंदावन के लिए प्रस्थान करना चाहता हूं। व्यापारी सुरक्षा फोरम के उपाध्यक्ष सुशील कुमार अग्रवाल लवली व दीपक गुप्ता ने उसे प्राचीन नागेश्वर मंदिर परिसर पहुंचाया और रात्रि विश्राम की व्यवस्था की। पदयात्री विपिन वेदवाल निवासी गाड़ी घाट विकास नगर कोटद्वार पौड़ी गढ़वाल पदयात्रा द्वारा नगीना चांदपुर ब्रजघाट स्याना औरंगाबाद होते हुए वृंदावन के लिए निरंतर यात्रा पर हैं। उन्होंने बताया कि राधा रानी के चरणों में सिर नवाकर संत शिरोमणि प्रेमानंद महाराज जी के दर्शन की अभिलाषा है। उन्होंने किसी भी प्रकार की भोजन पानी अथवा आर्थिक सहायता के लिए आग्रह को विनम्रता पूर्वक इंकार कर अपनी महानता के सहज दर्शन कराये। सुशील अग्रवाल,प्रवेश लोधी , पीतम सिंह राहुल मनीष कुमार दीपक कुमार अमित कुमार आदि ने पदयात्री का भावभीना स्वागत नागेश्वर मंदिर परिसर में किया। बुधवार तड़के पदयात्री अपने मिशन पर आगे बढ़ गया।

Spread the love