बुलंदशहर

मृतक नीरज फौजी का पार्थिव शरीर पंहुचा घर, परिजनों में कोहराम

पिता बोले नहीं लगा सकता मेरा बेटा फांसी, लगाया हत्या का आरोप…

जहांगीराबाद। कोतवाली क्षेत्र के गांव ककरई निवासी फौजी नीरज की मौत, बटालियन ने कहा नीरज राणा ने लगाई फांसी ज़बकी पिता बोले मेरे पुत्र की हुई हें हत्या, मौके पर एसडीएम सीओ व कोतवाल के साथ भारी पुलिसबल मौजूद रहा।

क्षेत्र के गांव ककरई निवासी रामू सिंह का पुत्र नीरज राणा उम्र करीब 22वर्ष जोकि जम्मू में फौज में तैनात था। अचनक मौत की खबर से परिवार में कोहराम मच गया। देश की रक्षा के जज्बे क़ो लेकर फौज में गया क्षेत्र का नौजवान एक दर्दनाक हादसे का शिकार हों गया, ख़ुदकुशी या हत्या मौत की सही वजह जानने के लिये होती रहीं चर्चा।

मृतक नीरज फौजी के पिता रामू सिंह ने बताया की बटालियन से फोन के माध्यम से सूचना मिली की उनके पुत्र ने फांसी लगा लीं हें। मगर ज़ब मेने अपने पुत्र के शरीर पर चोट के निशान देखे तो संदेह हुआ।

क्यूंकि अगर उसने फांसी लगाई तो शरीर पर चोट के निशान कैसे आये।परिजनों ने प्रशासन से निष्पक्ष जाँच की मांग की। मौके पर पहुंचे एसडीएम वी. के गुप्ता ने कहा की आलाअधिकारीयों क़ो परिजनों की मांग से अवगत करा दिया गया हें।

परिजनों की रिपोर्ट दर्ज की मांग पर सीओ उमेश कुमार पांडे ने बताया की घटना दूसरे प्रदेश की हें इसलिये पंजीकृत नहीं किया जा सकता परिजनों क़ो हर संभव मदद का भी भरोसा दिलाया। गांव में पार्थिव शरीर पहुंचने पर कोतवाली प्रभारी अखिलेश त्रिपाठी भारी पुलिसबल के साथ मौजूद रहें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.