बुलंदशहर : दिनांक 14 अप्रैल 2024 को भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जन्मोत्सव समारोह समिति पिलखुआ जनपद हापुड़ के तत्वाधान में पिलखुवा कस्बा जनपद हापुड़ में भारत रत्न बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर का जन्म दिवस बड़े धूमधाम हरसोउल्लास के साथ मनाया गया राजवीर सिंह सेवानिवृत्त पटवारी एवं पूर्व जिला संगठन मंत्री अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एवं पूर्व जिला उपाध्यक्ष भाजपा युवा मोर्चा एवं प्रदेश उपाध्यक्ष संत श्री गुरु रविदास विश्व महापीठ द्वारा बताया गया कि बाबा साहब के जन्म दिवस के शुभ अवसर पर कस्बा पिलखुआ के प्रमुख बाजारों एवं प्रमुख मोहल्लो से होते हुए परम आदरणीय राष्ट्रीय एकता के प्रतीक राष्ट्रीय मसीहा विश्व रतन नारी वर्ग के उद्धारक विश्व ज्ञान के प्रतीक महामानव युगपुरुष महान राष्ट्रवादी महान अधिवक्ता महान नेता महान समाजशास्त्री महान अर्थशास्त्री महान राजनीतिक महान इतिहासकार महान लेखक महान क्रांतिकारी महान संपादक महान विचारक और महान विद्यार्थी और महान प्रखर वक्ता स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री तथा भारत के विशालकाय संविधान के निर्माता भारत रत्न परम श्रद्धेय बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी के 133वां जन्मदिवस के शुभ अवसर पर विशाल शोभा यात्रा का आयोजन विभिन्न प्रकार की झांकियां के साथ समाज को जागृत एवं आकर्षित करते हुए बड़े ही धूमधाम हरसोउल्लास एवं विभिन्न बैंड बाजो एवं विभिन्न प्रकार की झांकियों के साथ श्री सतपाल जैड जी की अध्यक्षता में आयोजित किया गयाश्री राजवीर सिंह के द्वारा अपने उद्बोधन में झांकियां के समापन समारोह के उपरांत एवं एक विचार गोष्ठी एवं झांकियां को पुरस्कार वितरण समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए आयोजन कमेटी का हृदय से आभार प्रकट किया गया तथा उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहब के द्वारा दिए गए तीन सूत्रों पर चलकर समाज को शिक्षित एवं संगठित और संघर्षरत रहने की आवश्यकता पर विशेष बल दिया अनेक उदाहरणों के माध्यम से सेवानिवृत्त पटवारी श्री राजवीर सिंह के द्वारा समाज को एकत्रित होने की ओर आकर्षित किया तथा उपस्थित जनसमूह द्वारा तालियां बजाकर एवं जन्मोत्सव समिति द्वारा प्रतीक चिन्ह भैट कर एवं पटका पहनाकर भव्य स्वागत किए जाने पर आप सबका एवं जन्मोत्सव समारोह समिति पिलखुवा के समस्त पदाधिकारीयों का एवं समस्त जनता जनार्दन का हृदय से आभार व्यक्त कियाप्रदेश उपाध्यक्ष संत श्री गुरु रविदास विश्व महावीठ श्री राजवीर सिंह द्वारा बताया गया कि हमारे भारत रत्न बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी द्वारा शिक्षा के जगत में सर्वाधिक 32 डिग्रियां हासिल करने वाले तथा नो भाषाओं का ज्ञान अर्जित करने वाले तथा 54 विषय पर मास्टर तथा भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना करने वाले तथा भारत के प्रत्येक नागरिक को वोट का अधिकार देने वाले केवल और केवल बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी थेराजवीर सिंह के द्वारा बताया गया कि बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी का जन्म 14 अप्रैल सन 1891 ई को मध्य प्रदेश के मऊ छावनी नामक स्थान में एक साधारण परिवार में हुआ था उनके जीवन में बड़े संघर्ष का सामना करना पड़ा था एक कमरे के मकान में रहकर शिक्षा ग्रहण करना और तत्कालीन परिस्थितियों के अनुसार छुआछूत का जब बोलबाला चरम सीमा पर हो बाबा साहेब मे विभिन्न चुनौतियों का डटकर मुकाबला करने का अदम साहस था शिक्षा ग्रहण करते समय भी उन्हें बहुत अपमान को सहन करना पड़ा था लेकिन बाबा साहेब ने कभी अपमान को अपमान नहीं माना बल्कि सारी बाधाओ को दूर कर महानता को प्राप्त किया राजवीर सिंह के द्वारा बताया गया कि उनके संघर्ष की विभिन्न प्रकार की पहेलियां को अपने जीवन में उतार कर तथा बाबा साहेब जी को पढ़कर हमें उनके जीवन से प्रेरणा लेकर आगे बढ़ना चाहिएकार्यक्रम की अध्यक्षता श्री प्यारेलाल आरती ने की तथा कार्यक्रम में वरिष्ठ समाज सेवी श्री राजकुमार जैड जिनके द्वारा समित के अध्यक्ष को बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर जी का सुंदर तेल चित्र बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर भवन पिलखुवा में लगाने हेतु सप्रेम भेंट किया गया तथा श्री अशोक सागर जी राष्ट्रीय अध्यक्ष समता सैनिक दल श्री जगदीश जी राष्ट्रीय कवि डॉक्टर नरेश सागर जी उपकोषाध्यक्ष श्री जयराज जी लेखा निरीक्षक गौतम कुमार जैड श्री संगीत कुमार श्री लक्ष्मण सिंह श्री महिपाल सिंह बौद्ध तथा कार्यक्रम का सफल संचालन सेवानिवृत्त सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड श्री मंटूरी सिंह निमेष जी द्वारा किया गया

Spread the love