बुलंदशहर

बार में बिना पंजीकृत व्यक्ति न्यायालय में बहस करते पाये जाने पर होगी कार्यवाही – जनपद न्यायाधीश

अधिवक्ताओं के सम्मान में नहीं आने देंगे कमी – शैलेंद्र कुमार एडवोकेट

अधिवक्ताओं ने डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन एवं जनपद न्यायाधीश से की शिकायती

बुलन्दशहर। न्यायालय परिसर में पंजीकृत अधिवक्ताओं द्वारा विधिकार्य किया जा रहा है परंतु कुछ शिकायतें ऐसी भी सुनने को मिल रही हैं जिसमें बिना पंजीकृत व्यक्ति काला कोट पहनकर अपने को अधिवक्ता कहते हुए न्यायालय में विधि कार्य कर रहे हैं और बार में पंजीकृत अधिवक्ताओं का अपमान कर रहे हैं जिससे अधिवक्ताओं की छवि धूमिल होती जा रही है बिना पंजीकृत व्यक्तियों द्वारा सीनियर अधिवक्ताओं का सम्मान न करके उनके साथ दुर्व्यवहार करने की भी शिकायत मिली है ऐसे में अनेक अधिवक्ताओं द्वारा बार परिसर एवं न्यायालय परिसर में अभियान चलाकर उनके खिलाफ कार्रवाई कराने की मांग डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन से की है जिसमें डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के महासचिव को शिकायती पत्र दिया एवं जनपद न्यायाधीश से कार्रवाई कराने हेतु शिकायत की गई।

बता दें कि डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन परिसर में अनेक व्यक्तियों द्वारा बार में पंजीकृत न करते हुए न्यायालय में काला कोट पहनकर विधि कार्य किया जा रहा है तथा उन व्यक्तियों द्वारा सीनियर अधिवक्ताओं का सम्मान देकर को उनके साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है अधिवक्ताओं का अपमान न हो तथा ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही की जाए इसके लिए आज अनेक अधिवक्ताओं ने मिलकर डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के महासचिव जितेंद्र कुमार लोधी को एक शिकायती पत्र दिया जिसमें अभियान चलाकर ऐसे बार बिना पंजीकृत व्यक्तियों खिलाफ अभियान चलाकर ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित किया जाए और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए जिससे सीनियर अधिवक्ताओं को सम्मान मिल सके तथा उनके साथ दुर्व्यवहार न हो।

जनपद न्यायाधीश यशवंत कुमार मिश्र द्वारा बताया गया कि बार में बिना पंजीकृत लड़के लड़कियों को चिन्हित करके उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी उनके द्वारा न्यायालय में विधि कार्य करते पाए जाने पर उनके वाद को बंद किया जाएगा।
डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के महासचिव जितेंद्र कुमार लोधी द्वारा बताया गया कि ऐसी शिकायतें लगातार मिल रही हैं जिनपर शीघ्र संज्ञान लेकर कार्यवाही की जाएगी।

शैलेंद्र कुमार एडवोकेट द्वारा बताया गया कि कुछ लड़के और लड़कियां जो अभी विधि की पढ़ाई कर रहे हैं वह भी काला कोट पहनकर अपने को अधिवक्ता कहते हुए न्यायालय में विधिकार्य कर रहे हैं तथा सीनियर अधिवक्ताओं का सम्मान न करके उनका अपमान करने पर तुले हैं ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई होनी चाहिए। बार बिना पंजीकृत एवं विधि की पढ़ाई करने वाले लड़के और लड़कियों की पंजीकृत अधिवक्ताओं से अलग यूनिफार्म होनी चाहिए जिससे उनकी पहचान कर कारवाई की जाए।
जानकी नंदन एडवोकेट द्वारा बताया गया कि डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन परिसर के ए – ब्लॉक में कुछ लड़के और लड़कियां ऐसे हैं जो बार में पंजीकृत नहीं हैं और काला कोट पहनकर अपने को अधिवक्ता बताते हैं तथा सीनियर अधिवक्ताओं की बुराई करके ग्राहकों को तोड़ने का कार्य करते हैं तथा सीनियर अधिवक्ताओं का सम्मान न कर उनका अपमान करते हैं के अधिवक्ताओं के साथ दुर्व्यवहार करने की भी शिकायत मिली है जिस पर शीघ्र कार्रवाई होनी चाहिए।

ज्ञापन देने में शैलेंद्र कुमार के साथ सतीश गौतम जानकी नंदन अजय अरविंद अशोक वर्धन दिनेश कुमार एवं अनेक अधिवक्तागण शामिल रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.