हिंदू नवसंवत्सर का भी हुआ शुभारंभ मंदिरों में उमड़ी श्रृद्धालुओं की अपार भीड़

औरंगाबाद : बुलंदशहर राजेन्द्र अग्रवाल चैत्र नवरात्र के प्रथम दिन मंगलवार को माता शैलपुत्री की पूजा अर्चना की गई। प्राचीन नागेश्वर मंदिर परिसर स्थित दुर्गा मंदिर में माता शैलपुत्री का भव्य श्रृंगार मंदिर के महंत आचार्य कुलदीप शास्त्री ने श्रृद्धा और मनोयोग पूर्वक किया। माता रानी की पूजा अर्चना करने सभी मंदिरों में श्रृद्धालुओं का सारे दिन तांता लगा रहा। सनातनियों ने अपने घरों में भी हवन पूजन पूजा अर्चना की और उपवास किया। शीतला देवी मंदिर में शीतला माता का भव्य श्रृंगार किया गया बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने बाल-बच्चों की कुशल कामना की मनौती मांगी।अजीजाबाद स्थित चामुंडा मंदिर में झंडेवालान देवी मंदिर दिल्ली से पदयात्रा द्वारा लाई गई अखंड ज्योति की स्थापना हुई और श्रृद्धालुओं ने ज्योति दर्शन कर पूजा अर्चना संकीर्तन किया। स्थापना से पूर्व नगर में अखंड ज्योति शोभा यात्रा निकाली गई। चैत्र नवरात्र के प्रथम दिन नवसंवत्सर का भी शुभारंभ हुआ। बड़ी संख्या में लोगों ने अपने घरों और दुकानों पर केसरिया ध्वज लगाये और नवसंवत्सर की बधाई एवं शुभकामनाओं का आदान-प्रदान किया।

Spread the love