विदेश

‘T20 विश्वकप में भारत को हराने पर पाकिस्तान को मिलेगा ब्लैंक चेक’, रमीज राजा को इन्वेस्टर्स ने दिया ऑफर

नई दिल्ली। 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे आईसीसी टी20 विश्वकप टूर्नामेंट में फैन्स को भारत और पाकिस्तान के बीच खेले जाने वाले मुकाबले का बेसब्री से इंतजार है, जिसमें उन्हें दो धुर विरोधी टीमों को एक दूसरे के खिलाफ खेलते हुए देखने का मौका मिलेगा। इस बहुप्रतिक्षित मैच में जहां भारतीय टीम विश्वकप में अपने अजेय रिकॉर्ड को बरकरार रखने उतरेगी तो वहीं पर पाकिस्तान की टीम भी इतिहास बदलना चाहेगी। दोनों टीमों को 24 अक्टूबर से अपने विश्वकप कैंपेन का आगाज करना है जिसमें भारत-पाकिस्तान एक दूसरे से भिड़ती नजर आयेंगी।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के नवनिर्मित चेयरमैन रमीज राजा ने कई मौकों पर साफ किया है कि उनकी टीम का लक्ष्य इस साल भारत को हर हाल में हराना है। खासतौर से न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के पाकिस्तान दौरे को कैंसिल करने के बाद पीसीबी टी20 विश्वकप को बदले का टूर्नामेंट की तरह देख रहा है। इतना ही नहीं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के एक अधिकारी ने खुलासा किया है कि अगर पाकिस्तान क्रिकेट टीम टी20 विश्वकप में भारत को हरा देती है तो उस पर पैसों की बरसात होने वाली है।

अगर बीसीसीआई ने रोकी आईसीसी की फंडिंग तो खत्म हो जायेगा पीसीबी

इंटर प्रोविंसियल कॉर्डिनेशन (आईपीसी) की सीनेट स्टैंडिंग कमिटी की मीटिंग में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की आर्थिक स्थिति को सुधारने और आत्म-निर्भर बनने पर जोर दिया गया ताकि पाकिस्तान क्रिकेट को विकास के लिये अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल की फंडिंग पर निर्भर न होना पड़े।

मीटिंग के बाद रमीज राजा ने कहा,’पीसीबी को मिलने वाले पैसों का 50 प्रतिशत हिस्सा आईसीसी की ओर से आता है, जिसकी कुल आय का 90 प्रतिशत हिस्सा भारत से आता है। मुझे डर है कि अगर भारत ने आईसीसी की फंडिंग करने से रोक दिया तो शायद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड बिखर जायेगा क्योंकि पीसीबी की ओर से आईसीसी को एक भी प्रतिशत फंडिंग नहीं दी जाती है। मैं पाकिस्तान क्रिकेट को मजबूत बनाने के लिये प्रतिबद्ध हूं।’

भारत को हराने पर मिलेगा ब्लैंक चेक

इस फेहरिस्त में रमीज राजा ने पाकिस्तान क्रिकेट के लिये निवेशकर्ताओं की बढ़ोतरी करने पर बात की और कहा कि अगर पाकिस्तान की टीम भारत को हरा देती है तो हम पर पैसों की बरसात हो जायेगी। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि अगर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आर्थिक रूप से मजबूत होता तो टीमें कभी भी दौरे से अपना नाम वापस लेने की हिमाकत नहीं करती।

उन्होंने कहा,’पीसीबी में निवेश करने के एक इच्छुकर्ता ने हमें कहा है कि अगर पाकिस्तान की टीम भारत को आगामी टी20 विश्वकप में हरा देती है तो पीसीबी के लिये ब्लैंक चेक तैयार है। इतना ही नहीं अगर हमारी क्रिकेट इकॉनमी मजबूत होती तो न्यूजीलैंड और इंग्लैंड की टीमें कभी भी हमारे साथ ऐसा नहीं करती। बेस्ट क्रिकेट टीम और बेस्ट क्रिकेट इकॉनमी हमारे लिये दो मुख्य चुनौतियां हैं।’

हमने घरेलू क्रिकेटर्स की सैलरी बढ़ाई

रमीज राजा ने इस दौरान पाकिस्तान क्रिकेट टीम के घरेलू क्रिकेटर्स की सैलरी बढ़ाने का भी ऐलान किया है और कहा कि विकास के लिये यह बेहद जरूरी है।

उन्होंने कहा,’ हमने घरेलू क्रिकेटर्स की सैलरी में कई हजार रुपयों की बढ़ोतरी की है क्योंकि हम चाहते हैं कि वो कम से कम सालाना 4 मिलियन रुपये की कमायी करें। पीसीबी इसको लेकर स्पाॉन्सर्स भी ढूंढ रहा है।’

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.